खोजें

बोल कि लब आज़ाद हैं तेरे?

9 फरवरी 2015 को अफज़ल गुरु की फ़ासी की तीसरी सालगिरह पर जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में एक प्रदर्शन का आयोजन किया गया। (अफज़ल गुरु को 13 दिसंबर के संसद के हमले के लिए दोषी ठहराया गया था।)  इस समारोह का शीर्षक था “द कंट्री विथाउठ अ पोस्ट-ऑफिस” जो कि आघा शाहिद अली की […]

Cartoonist Aseem Trivedi

व्यंग्य या राजद्रोह? भारत में राजनीतिक कार्टून

भारतीय कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी हाल ही में राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किये गए थे। मानव भूषण चर्चा करते है कि कैसे भारत की दंड संहिता के एक पुराने अनुभाग को सरकार आलोचकों को चुप करने के लिए इस्तेमाल करती है।

समलैंगिकता के खिलाफ धर्मोपदेशक

अक्तूबर 2001 में हैरी हैमंड नामक एक इवैंजेलिकल ईसाई धर्मोपदेशक ने एक पोस्टर आयोजित किया जिस पर कहावत थी “बंद करो अनैतिकता, बंद करो समलैंगिकता, बंद करो समलैंगिकता।” जब हैमंड ने रोकने से इनकार कर दिया, एक पुलिसकर्मी ने उसे गिरफ्तार कर लिया। टिमोथी गर्तोन ऐश इस शिक्षाप्रद मामले पर चर्चा करते है।