ईरानी अभिनेत्री के सेक्स टेप का कांड

फातेमेह शम्स एस्मेइलि लिखती है कि एक सेक्स वीडियो के लीक की वजह से ईरानी अभिनेत्री ज़हरा आमिर इब्राहिमी को अभियोजन से बचने के लिए देश से भागना पड़ा।

उदहारण

ज़हरा आमिर इब्राहिमी एक युवा ईरानी अभिनेत्री है जिसे लोकप्रिय टीवी श्रृंखला नाग्रेस, जो 2006 में ईरान में प्रसारित हुआ था, के द्वारा प्रसिद्धि मिली है। वह 2007 में अपनी प्रसिद्धि की ऊंचाई पर थी जब उसकी और एक जवान आदमी का एक सेक्स वीडियो लीक किया गया था और व्यापक रूप से परिचालित किया गया। उसने इस लीक की खबर पहली बार मित्रों और सहकर्मियों के माध्यम से सुनी जब वह ईरान के उत्तर में एक यात्रा पर थी। एक दिन से भी कम समय में अमीर इब्राहिमी ने इस मामले के संबंध में एक आधिकारिक स्टैंड लेने के लिए मजबूर महसूस किया।

ऐसे वीडियो के सार्वजनिक वितरण ने, जिस में एक अभिनेत्री के जीवन की सबसे निजी और अंतरंग दृश्य थे, आमिर इब्राहिमी के पेशेवर कैरियर को तबाह कर दिया। ईरान जैसे एक समाज में, जहां महिला के शरीर को भारी तरह से सेंसर किया जाता है और यौन मामले अभी भी निषेध है, ऐसी एक घटना का किसी के सामाजिक और कलात्मक प्रतिष्ठा पर घातक असर हो सकता है। एक साक्षात्कार में आमिर इब्राहिमी ने कहा कि यह लीक वित्तीय या अनैतिक इरादों के कारण हो सकता है। इसके तुरंत बाद पीले पत्रिकाओं ने आत्महत्या की अफवाह फैलाया। विवाद इस स्थर पर पहुंच गया की जहां प्लेबॉय ने इस कहानी को एक लेख में कवर किया और दोनों अपनी वेबसाइट और टीवी चैनल पर इस फिल्म को दिखाया। इसके बाद आमिर इब्राहिमी ईरानी सिनेमा और टेलीविजन में अपना पेशेवर कैरियर जारी नहीं रख पाई। उसने उसके खिलाफ लगाए गए आरोपों से इनकार किया लेकिन उसे अदालत द्वारा जेल की सजा सुनाई गयी और उसने कारावास से पहले ईरान को फ्रांस के किये छोड़ दिया।

लेखक की राय

किसी भी अन्य समाज की तरह प्रसिद्ध लोगों से संबंधित और उनके यौन संबंधों, अंतरंग समारोहों और शादियों जैसे क्षेत्रों से संबंधित निजी वीडियो का प्रदर्शन ईरान में व्यापक है औरलाभदायक है। परन्तु हस्तियों की गोपनीयता के संबंध में क्या लाइन है जो रिपोर्टरों और पत्रकारों को पार करने की अनुमति नहीं है, यह एक मुद्दा है जिस पर कि पूरी तरह से  बहस और चर्चा नहीं की गई है। आमिर इब्राहिमी शिकार हुई है दोनों उसके निजी जीवन के प्रदर्शन से और गोपनीयता नियमों की अस्पष्टता की वजह से। जो आदमी इस वीडियो के वितरण के लिए जिम्मेदार पाया गया था उसकी किसी भी अदालत ने निंदा नहीं की और केवल आमिर इब्राहिमी को एक नाजायज संबंध (इस्लामी नियमों के अनुसार) में उसकी भागीदारी की कीमत का भुगतान करने के लिए मजबूरी मे ईरान छोड़ना पड़ा।

निजी फिल्मों के प्रदर्शन सामाजिक मान्यता के विभिन्न स्तरों पर होता है, यानि के नेताओं और मशहूर हस्तियों, दोनों के लिए एक  जैसा। लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि प्रशन किया जाये दोनों गोपनीयता के हक की सीमा को और किस हद तक कानूनी संस्थाओं और खुफिया सेवाओं को समर्थन करने के लिए और इस तरह के हक को प्रदान करने के लिए जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए। ज़हरा को अपना देश छोड़ने के लिए मजबूर किवल इसलिए किया गया क्योंकि उसके गोपनीयता के हक को मान्यता नहीं दी गई थी और इस प्रकार उसे अनिश्चित काल के लिए राष्ट्रीय और सामाजिक अधिकारों से वंचित किया गया। इस घोटाले के बाद मैंने कुछ चीजों के बारे में सोचा। यदि ज़हरा एक आदमी होती तो क्या फिर भी उसे ईरान छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता? क्या गोपनीयता लिंग से संबंधित और प्रभावित है? और क्या यह गोपनीयता का आक्रमण ईरान में महिलाओं के लिए और ज्यादा कड़वे परिणाम रखता है?

- Fatemeh Shams Esmaeili

और पढ़ें:


Comments (3)

Google अनुवाद द्वारा स्वचालित मशीन अनुवाद प्रदान किया जाता हैं. यह आपको बताता है की योगदानकर्ता क्या कहना चाहता हैं, लेकिन इसका एक सटीक, सूक्ष्म अनुवाद की तरह भरोसा न करें.

  1. Your comment is awaiting moderation.

    Nothing to do now by her. She suited her life style with western countries now. She doesn’t have anything left now. She has to bear that whole through in her life. Main point is that after that sin she didn’t apply for apology, rather she started living like western people. That shocked me very much.

  2. I think she might be right in leaving the country .Everybody has a right to a private life. Right to freedom however underestimated it might be is above any religious laws.Do pardon me if it hurts anyone’s feelings.Coming back to the topic, I think the culprit who released the tape should be brought to justice.Live in relationships are very common in many socities , so all of them are immoral ? Many celebs then are the professionals in this field ,so why not ban them as well

  3. Your comment is awaiting moderation.

    Yes , people who r engaged in extra-marital affairs, are also sinner in Islam. So that is the difference between good and bad people. Ebrahimi is one of them. We all know what she has done. And of course we don’t know about many people. But we should see bad people in the same way.

  4. I agree with much of what Dinaz Ahmed says, though let me posit a further problem: What about all the people who are engaging in extra-marital affairs but who don’t get videos of themselves posted online with everyone knowing who they are? Even if we agree with an Islamic state being run with Muslim laws, we run into the problem of some laws being very hard to implement. If they can’t be deployed fairly and equally then it becomes about picking on celebrities and “popular justice”.

  5. Your comment is awaiting moderation.

    I think it’s not expected from anyone. This video was made with their consent. I have a question if she was a pious woman then why did she did sex with her Boyfriend? It is strictly prohibited in Islam. She refused that she was not the woman in that video only on that time for escaping the trial. After that she went to France. If she is a pious woman why did she leave her Muslim attitude? Have anyone seen her present life style? She is just living like western non muslim people. Her dress up doesn’t show Muslim attitude. I think both Zahra and her boyfriend could be punished. Modernization doesn’t mean that she can do anything in that social life. I don’t believe she was a pious woman. She will not be able to return to her country in future if govt permits also. Because, in Muslim social life it’s a dangerous offense. So, she will live in foreign country. She will have to marry a non muslim person. Because no Muslim will marry her for lifetime from the heart. Because, her child will also be affected for her scandal in future. I don’t wish that. But this is the true picture for her. Someone may says, sex is her personal matter. Of course, it’s personal. But there are rules for that. She was in Islamic country and she knew that premarital sex is not allowed in her religion. So for her mistake she will be getting the reward as well as her whole family will be affected. So we should be careful to do the right things.

  6. It is very ugly and pitty attack against any women in the earth. But in this case, its effects should be more deep and profound due to this region’s characteristic. No women desires this kind of breaches of her’s private life. I really upset when I heard this case. I also strongly believe that someone who hate her or would possess and benefit with this allegation behind this plot. To put in a nutshell, someone must wanted to destroy her’s life and career for some reasons. We can see lots of example related this case anywhere in the world.

अपनी भाषा में टिप्पणी दीजिये

सुर्खियाँ

Swipe left to browse all of the highlights.


'वाक्-स्वतंत्रता पर चर्चा' ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के सेंट एंटनी कॉलेज में स्वतंत्रता के अध्ययन पर आधारित दह्रेंदोर्फ़ कार्यक्रम के अंतर्गत एक अनुसन्धान परियोजना है www.freespeechdebate.com

ऑक्सफ़ोर्ड विश्वविद्यालय